गणतंत्र दिवस पर निबंध भाषण – 26 January Republic Day Essay Speech in Hindi

क्या आप गणतंत्र दिवस पर निबंध और भाषण (Essay Speech on Republic Day in Hindi) की तलाश में हैं तो आपकी खोज यहाँ आकर ख़त्म हो जाएगी. अगर आप स्कूल और कॉलेज में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स और पढ़ाने वाले टीचर्स हैं तो आपको इसकी जरुरत जरूर पड़ेगी.  गणतंत्र दिवस को हम सभी Republic Day के नाम से भी जाना जाता है. 26 जनवरी को हर साल गणतंत्र दिवस के अवसर पर समारोह का आयोजन किया जाता है. जहाँ पर स्टूडेंट्स और छात्रों को ये अवसर दिया जाता है की वो 26 जनवरी के मौके पर भाषण और निबंध प्रस्तुत करे. हर कोई चाहता है की वो 26 जनवरी पर आयोजित प्रोग्राम में भाग लेकर अच्छे से अच्छा भाषण और निबंध सुनाकर लोगों के दिल में देश के प्रति सम्मान, देशभक्ति की भावना को जागृत कर सके.

हम यहाँ पर आपके लिए गणतंत्र दिवस पर निबंध  100 शब्द, 150 शब्द , 200 शब्द 300 शब्द और 400 शब्दों में लेकर आये हैं. तो हर वर्ग के छात्रों को उनके लिए भाषण मिलेगा जिसे वो सभी लोगों के सामने प्रस्तुत कर के गणतंत्र दिवस क्या है, इसका क्या महत्त्व है और संविधान का निर्माण किसने और कब किया इन सभी बातों को विस्तार से बता सकेंगे.  आप यहाँ पर तैयार किये गए निबंध और भाषण का उपयोग बिलकुल फ्री में कर सकते हैं और सभी के सामने आप देशभक्ति की भावना को जगा सकेंगे. चलिए दोस्तों अब आप खुद ही इन गणतंत्र दिवस पर निबंध और भाषण (26 January Essay Speech on Republic Day in Hindi) को पढ़िए और इन्हे अपने स्कूल और कॉलेज में प्रस्तुत कीजिये.

गणतंत्र दिवस पर निबंध व भाषण – Republic Day Essay Speech in Hindi

हम यहाँ पर 26 जनवरी पर निबंध और भाषण हिंदी में प्रस्तुत कर रहे हैं जो स्कूल के बच्चों के लिए काफी उपयोगी हैं. हर वर्ष आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में हमारे सभी भारतवासी उन सभी स्वतंत्रता सेनानियों को याद करते हैं जिन्होंने देश की आज़ादी में अपना योगदान दिया और साथ ही देश के सभी लोगों के लिए राष्ट्र के प्रति नियम बनायें जिसे हम संविधान कहते हैं. भारतीय संविधान की विशेषता के बारे में  जानते हैं.

यहाँ पर विभिन्न विभिन्न संख्या के शब्दों में हम गणतंत्र दिवस पर निबंध दे जिसे आप अपने लिए प्रयोग कर सकते हैं बिलकुल बिना किसी संकोच के. ये आपके लिए ही हमने तैयार किया है. तो चलिए इन निबंध पर नज़र डाल लेते हैं.

Republic Day Essay Speech in Hindi

गणतंत्र दिवस पर निबंध – Republic Day Essay in Hindi (100 शब्द)

भारत के राष्ट्रीय पर्वों में 26 जनवरी का बहुत ही विशेष महत्त्व है. 26 जनवरी 1929 को हुए इंडियन नेशनल कांग्रेस के अधिवेशन में यह निर्णय लिया गया की सिर्फ आज़ादी नहीं बल्कि पूर्ण स्वराज्य हमारा मकसद होना चाहिए और सभी ने इस पर सर्वसहमति दी. अंग्रेज़ों के खिलाफ बहुत ही कड़े परिश्रम  के बाद भारत को 15 अगस्त 1947 को भारत आज़ाद हुआ.  जब भारत आज़ाद हुआ उस वक़त हमारे पास कोई संविधान नहीं था. 2 वर्ष 11 महीने और 18 दिन बाद 1950 संविधान बनकर तैयार हो गया इसके पीछे डॉक्टर भीमराव अंबेडकर थे. 26 जनवरी 1950 को इसे लागू कर दिया गया. तब से हर साल इस त्यौहार को बहुत ही उत्साह के साथ मनाया जाता है. दिल्ली में इस अवसर पर परेड का आयोजन किया जाता है. और हर राज्य की संस्कृति की झाकियां निकाली जाती है. हमारे देश के हर हिस्से में इसे मनाया जाता है. इस दिन पुरे देश में सरकारी छूती रहती है. सभी स्कूल कॉलेज और सरकारी दफ्तर में राष्ट्रीय झंडे को फहराया जाता है. परेड की आयोजन की जाती है. भारत की संस्कृति की झलक इस कार्यक्रमों के द्वारा दिखाई जाती है. भारत के गौरव को पूरी दुनिया को दिखाया जाता है.

गुड मॉर्निंग इमेजेज हिंदी कोट्स 

गुड नाईट इमेजेज विथ लव कोट्स 

गणतंत्र दिवस पर निबंध – Republic Day Essay in Hindi (150 शब्द)

भारत में अंग्रेजी शासन काफी लम्बे समय तक रहा. 15 अगस्त 1947 को हमारा देश आज़ाद हुआ. स्वतंत्रता दिवस के दिन हमारा देश तो आज़ाद हो गया लेकिन हमारे देश में अपना कोई क़ानून नहीं था. देश को चलाने के लिए जब तक खुद का क़ानून न नहो तब संभव नहीं है. हमे वास्तविकता में पूर्ण आज़ादी तब मिली जब हमारे देश का खुद का क़ानून लागू किया गया और वो दिन था 26 जनवरी 1950. इसी दिन भारत के संविधान को लागू किया गया और भारत को एक लोकतांत्रिक धर्मनिरपेक्ष देश के रूप में गणराज्य घोषित किया गया.

26 जनवरी को हम एक राष्ट्रीय पर्व के रूप में हर साल मानते हैं. भारत की राजधानी दिल्ली में इस पर्व को विशेष कार्यक्रम आयोजन कर के मनाया जाता है. इस समारोह का आनंद लेने के लिए पुरे भारतवर्ष लाखों लोग दिल्ली जाते हैं. हमारे देश की अखण्डता और एकता हर एक भारतीय पर निर्भर करती है. हर भारतीय सदैव भारत को एकल सुपरपावर बनाने के लिए अपना योगदान दे रहा है. वो दिन दूर नहीं जब भारत भी एक बहुत बड़ा सुपरपावर के रूप में दुनिया के सामने उभर कर आएगा.

गणतंत्र दिवस पर निबंध व भाषण – Republic Day Essay Speech in Hindi (200 शब्द)

भारत को 15 अगस्त 1947 को आज़ादी मिली लेकिन उस वक़्त देश चलना आसान नहीं था. इस के लिए एक संविधान की जरुरत थी जिस पर लिखे गए नियमों को भारत का हर नागरिक माने और पर अमल कर सके. ये काम डॉक्टर भीम राव अंबेडकर को सौंपा गया. ये जिम्मेदारी उन्होंने बहुत अच्छे से निभाई और 2 वर्ष 11 महीने 18 दिन की कड़ी परिश्रम के बाद उन्होंने भारत का संविधान तैयार कर ही लिया. देश की आज़ादी के बाद भी भारत में समस्याओं की कमी नहीं थी. अंग्रेज़ों से मिली आज़ादी को वास्तविक अर्थ तभी मिला जब भारत एक स्वतंत्र गणराज्य के रूप में घोषित किया गया. और वो दिन था 26 जनवरी 1950 जब भारत के लिए बनाये गए संविधान को लागू किया गया और पुरे देश को एक महान गणतंत्र घोषित किया गया.

गणतंत्र दिवस हमारा राष्ट्रीय त्यौहार है. ये हर साल 26 जनवरी के दिन मनाया जाता है. स्वंतत्रता मिलने के बाद इसी दिन भारत को पूर्ण गणतंंत्र राष्ट्र घोषित करने के लिए संविधान लागू किया गया. ये पर्व हमारे देश में मनाये जाने वाले त्योहारों में विशेस महत्त्व रखता है. इस दिन पुरे देश सरकारी छुट्टी होती है. सभी स्कूल कॉलेज और सरकारी कार्यालयों में राष्ट्रीय ध्वज को फहराया जाता है और सभी स्वतंत्रता सेनानियों के दिए हुए बलिदान को याद किया जाता है. देश की एकता और अखंडता के बारे में व्याख्या की जाती है. हर नागरिक देश के विकास में भागीदार बन सकता है बस उसे अपना योगदान देना है. जय हिन्द जय भारत

गणतंत्र दिवस पर निबंध व भाषण – Republic Day Essay Speech in Hindi (250 शब्द)

भारत बहुत लंबे समय तक अंग्रेज़ों का गुलाम रहा. कड़े संघर्ष के बाद और बहुत सारे लोगों के बलिदान के बाद हमारे देश को आज़ादी मिली. जब कोई राष्ट्र अधीन रहता है तो उसके लिए इतनी बड़ी जनसँख्या वाले देश को चलना आसान नहीं होता.तुरंत से किसी भी देश को बिना नियमों के नहीं चलाया जा सकता है. इसी बात को ध्यान में रखते हुए भारत के लिए विशेष संविधान लिखा गया . इस काम को डॉक्टर भीम राव अंबेडकर ने किया. उनके इस कठिन परिश्रम के फलस्वरूप भारत के बनाये संविधान को 26 जनवरी 1950 को लागू किया गया. और तभी से हर साल 26 जनवरी का दिन गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है.

इस अवसर पर पुरे देश में सरकारी अवकाश रखा जाता है. स्कूल, कॉलेज और सरकारी कार्यालयों में तिरंगे झंडे को फहराया जाता है. इसके बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है. भारत में 3 राष्ट्रीय त्यौहार हैं जो स्वतंत्रता दिवस, गणतंत्र दिवस और गाँधी जयंती हैं. इस अवसर पर लाल किले में राष्ट्रपति झंडा फहराते हैं. मुख्य अतिथि के रूप में हर साल अलग अलग देशों के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को आमनत्रित किया जाता है. इस समारोह में भाग लेकर वो भी हमारे देश की शक्ति को करीब से देखते और पहचानते हैं. विभिन्न राज्यों की संस्कृति उनके लोकगीत और उनकी परंपरा को भी प्रदर्शित किया जाता है. भारतीय सेना की विभिन्न टुकड़ियों द्वारा परेड निकला जाता है. इससे हमारे देश की शक्ति और गौरव का प्रदर्शन करते हैं और पूरी दुनिया को बताते हैं की भारत देश किसी भी अन्य देश से किसी मामले में कम नहीं है. जय हिन्द जय भारत

हैप्पी नई ईयर sms और शायरी 2019  

हैप्पी नई ईयर इमेजेज डाउनलोड 2019 

गणतंत्र दिवस पर निबंध – Republic Day Essay in Hindi (300 शब्द)

गणतंत्र दिवस हमारे देश का राष्ट्रीय त्यौहार है. ये दिन हमारे देश में भारत को एक गणतंत्र राष्ट्र बंनने की ख़ुशी में मनाया जाता है. 26 जनवरी 1950 को भारतर का संविधान लागू किया गया और भारत को एक गणतंत्र राष्ट्र घोषित किया गया. इसी दिन लंबे संघर्ष के बाद मिली आज़ादी को पूर्ण अर्थ देने के लिए नए संविधान को अपनाया गया और भारत के लिए एक नए युग की शुरुआत की गयी. ये एक ऐसा दिन था जिस पर पुरे देश का गर्व समाया हुआ था. देश की जनता का स्वाभिमान का दिन था. संविधान को मद्दे नज़र रखते हुए हुए डाक्टर राजेंद्र प्रसाद को देश का पहला राष्ट्रपति चुना गया. इसकी ख़ुशी पुरे भारतवर्ष में मनाई गयी. उसी दिन से हर साल 26 जनवरी का दिन बहुत ही उत्साह के साथ पुरे भारत में मनाया जाता है.

ये दिन हमारे देश के लिए एक बहुत ही गौरवपूर्ण दिन है. इस अवसर पर विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया है. स्कूल, कॉलेज और सरकारी संस्थानों में राष्ट्रिय ध्वज को फहराया जाता है. सभी छात्र और छात्राएं इस दिन इन कार्यक्रमों में बड़े ही उत्साह से भाग लेते हैं. 26 जनवरी के दिन सुबह से ही शुभकामना सन्देश एक दूसरे को सभी भेजना शुरू कर देते हैं. सभी एक दूसरे के साथ इस दिन की ख़ुशी को बांटते हैं. सभी स्कूलों में परेड की भी आयोजन की जाती है इसके अलावा राष्ट्रीय गीत, लोकनृत्य लोकगीत तथा और भी नाटक का आयोजन किया जाता है. देश का प्रत्येक नागरिक इसके महत्त्व को बहुत अच्छे से समझता है. अपना खुद का कानून जब तक न हो तब तक देश को चलाया नहीं जा सकता है. संविधान पुरे देश की एकता और अखंडता का प्रतिक है. ये देश के हर नागरिक को अधिकर देता है की वो अपने साथ देश की प्रगति में अपना पूरा योगदान दे सके. जयहिंद जयभारत

 

गणतंत्र दिवस पर निबंध – Republic Day Essay in Hindi (400 शब्द)

गणतंत्र दिवस भारत का राष्ट्रीय त्योहार है. हर साल 26 जनवरी के दिन को 1950 से लगातार हार साल रिपब्लिक डे के नाम से मनाया जाता रहा है क्यों कि इसी दिन भारत सरकार अधिनियम एक्ट 1935 के जगह भारत के द्वारा बनाया गया संविधान लागू किया गया. भारतीय संविधान को बनाने में करीब 2 वर्ष 11 महीने 18 दिन लगा तब जाकर ये पूरा हुआ. फिर इसे 26 जनवरी 1950 को लागू किया गया। और उसी वक़्त से हर साल इस दिन को पूरे देश मे बहुत ही उत्साह के साथ मनाया जाता है। भारत में जब अंग्रेजों का शासन था उस वक़्त भारत के स्वतंत्रता सेनानियों ने बहुत संघर्ष के बाद भारत को 15 अगस्त 1947 को आज़ादी दिलाई. लेकिन इसके बाद भारत को स्वतंत्र गणराज्य बनाने के लिए जरूरी था कि ऐसा कानून बनाया जाए जिसे पूरे देश पर एक साथ लागू किया जा सके और भारत को एक खुद के द्वारा बनाया गया जनता के हित को ध्यान में रख कर संविधान का निर्माण कर के इसे लागू किया गया।

हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के अवसर पर समारोह का आयोजन किया जाता है। भारत के राष्ट्रपति लाल किले में राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे को फहराते हैं और पूरे देश को संबोधित करते हैं। ये भारत मे मनाये जाने 3 राष्ट्रीय त्योहारों में से एक है जो पुरे भारतवासियों के लिए विशेष महत्त्व रखता है. इसके अलावा स्वतंत्रता दिवस और गाँधी जयंती भी अन्य राष्ट्रीय त्यौहार हैं. इस पर्व को पुरे भारत सहित नयी दिल्ली में विशेष आयोजन कर के भारत के लिए इसके महत्त्व को दर्शाया जाता है. इस अवसर पर भारतीय सेना के अलग अलग रेजिमेंट थल सेना, वायु सेना और जल सेना सभी भाग लेते हैं. हर साल बहुत ही आकर्षक परेड दिल्ली के राजपथ पर निकाली जाती है. इस परेड में विभिन्न राज्यों की संस्कृति की झलक दिखाई जाती है.

हर साल आयोजित गणतंत्र दिवस पर  राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को आमंत्रित किया जाता है. ये एक ऐसा पल होता है जब हम गौरव से अपने देश की संस्कृति को दूसरे देशों के सामने प्रस्तुत करते हैं और बताते हैं की हमारा देश भारत महान देश है और दुनिया में ऐसा कोई लोकतांत्रिक देश नहीं है. यहाँ की विविध संस्कृति होने के बावजूद लोगों को एक सामान अधिकार दिया जाता है. 26 जनवरी पर लागू की गयी संविधान हर नागरिक को ये अधिकार देती है की वो खुद के विकास के साथ देश के विकास में अपना योगदान दे. हम सभी भारत वासी को हमेशा निरंतर आगे बढ़ाना और पूरी दुनिया के सामने भारत देश को एक सुपरपावर बनाना है.

जय हिन्द जय भारत

अंतिम राय इस लेख पर

प्रिय छात्रों और शिक्षकों मुझे उम्मीद है की आपको गणतंत्र दिवस पर निबंध और भाषण (Essay Speech on Republic Day in Hindi) की पोस्ट उपयोगी लगी होगी. इन निबंध का उपयोग 26 जनवरी पर आयोजित कार्यक्रम में कर सकते हैं. इसका उपयोग आप बेझिझक कर सकते हैं क्यों की ये बिलकुल फ्री हैं. आप 26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर निबंध व भाषण लोगों के सामने प्रस्तुत कर के भारत के संविधान के महत्त्व को सबको बता सकते हैं.

आपको अगर ये पोस्ट अच्छी लगी तो इसे भी दूसरे छात्रों और शिक्षकों के साथ शेयर करें.  फेसबुक और व्हाट्सएप्प में इस पोस्ट को शेयर करें. ताकि कोई भी ऐसा छात्र जिसे 26 जनवरी के अवसर पर निबंध लिखना या भाषण बोलने के लिए चुना गया है वो अच्छे भाषण को लोगों के सामने प्रस्तुत कर सके.

गणतंत्र दिवस पर निबंध भाषण – 26 January Republic Day Essay Speech in Hindi
5 (100%) 11 votes

Leave a Comment