Sitare Shayari in Hindi With Image

दोस्तों आज हम इस पोस्ट में बेहतरीन और चुनिंदा Sitare Shayari का संग्रह ले कर आए हैं इस पेज पर आप हर तरह की शायरी को पढ़ सकते हैं और शायरी को आसानी से कॉपी करके अपने परिजनों को  भेज सकते हैं आप तारे शायरी को अपने व्हाट्सएप्प स्टेटस में भी लगा सकते हैं शानदार तारे से संबंधित ये शायरी आपके प्यार और भावनाओं को व्यक्त करने में आपकी मदद जरूर करेंगे।

रात के समय खुले आसमान में बहुत से तारे टिमटिमाते हुए दिखाई देते हैं आसमान में तारों को देखकर आसमान की खूबसूरती में चार चाँद लग जाते हैं तारे ही आसमान की शोभा बढ़ाते हैं आसमान में छोटे-छोटे तारों को देखने का मजा ही अलग हैं। यदि अभी तक आपने तारों से संबंधित शायरी नहीं पढ़ी हैं तो नीचे दी हुई शायरी को पढ़िए और अपने दोस्तों के साथ शेयर किजिए।

 Sitare Shayari in Hindi

जिस दिन आप जमी पर आए,
वो आसमा भी खूब रोया था,
आखिर उसके आंसू थमते भी कैसे,
उसने हमारे लिए अपना सबसे प्यारा सितारा जो खोया था,

Sitare Shayari in Hindi

चाँद तारो की कसम खाता हूँ,
मैं बहारों की कसम खाता हूँ!!
कोई आप जैसा नज़र नहीं आया,
मैं नजारों की कसम खाता हूँ!!

तू नहीं तो ये नज़ारा भी बुरा लगता है,
चाँद के पास सितारा भी बुरा लगता है!!
ला के जिस रोज़ से छोड़ा है तुने भवँर में मुझको,
मुझको दरिया का किनारा भी बुरा लगता है!!

एक सितारे सा टूटकर गिरूँगी कही
और उनकी हर मन्नत पूरी करके जाउंगी

“न लाऊँगा चाँद, न सितारे तुम्हारे वास्ते!!
बनाऊँगा जमीं को तेरे लायक तेरे वास्ते!!

चाँद की चिट्ठी भूले से सितारे के पते पहुँची थी,
खुशियाँ पल दो पल ही सही वहाँ ठहरी थी,

सहमी हुई है रात, सितारे उदास हैं,
जागा हुआ है चाँद सुबह की उमीद में!!

क्या अब भी वतन में वैसे ही सरमस्त नज़ारे होते हैं!!
क्या अब भी सुहानी रातों को वो चाँद सितारे होते हैं!!

जरूर पढ़िए:

 Chand Sitare Shayari in Hindi

सितारे लफ्ज़ बनते जा रहे हैं,
खुदा तेरा कसीदा लिख रहा है।

क्यों हमें किसी की तलाश होती है,
क्यों दिल को किसी की आस होती है,
चाँद को देखो वो भी तन्हा है,
फिर भी उसकी चाँदनी से रोशन रात होती है…

कभी दिल को कभी शमा को जला कर रोए,
तेरी याद को दिल से लगाकर रोए,
रात की गोद में जब सो गई दुनिया सारी,
चाँद को तेरी तस्वीर बनाकर रोए

सदा देती है खुशबू, चाँद तारे बोल पड़ते हैं,
नज़र जैसी नज़र हो तो नज़ारे बोल पड़ते हैं,
तुम्हारी ही निगाहों ने कहा है हमसे ये अक्सर,
तुम्हारे जिस्म पर रंग सारे बोल पड़ते हैं

हम साथ आसमानों की सेर कर आए,
हर सितारे से हम दोस्ती कर आए,
एक सितारा अच्छा लगा वो हम साथ ले आए,
अब आप ही बताओ आप ज़मीन पर कैसे आए

किसी के साथ जब बीते हुए लम्हों की याद आई
थकी आखों में अश्को के सितारे झिलमिलाते है

Stars Shayari in hindi

जान दे देंगें बस यही हमारे इख्तियार में है ,
हम नहीं करते बात सितारे तोड़ लाने की

Chand Sitare Shayari in Hindi

रात है, चाँद है, संग चाँदनी सितारे भी फलक पे हैं!!
बस एक नींद नहीं आँखों में, तेरी यादें पलक पे हैं!!

शाम आयी तेरी यादों के सितारे निकले
रंग ही ग़म के नहीं नक़्श भी प्यारे निकले

सितारे हद में थे मेरी मगर उड़ के नहीं देखा
तुम्हारे बाद किसी से कभी जुड़ के नहीं देखा

ये जो हम हैं न एहसास में जलते हुए लोग
हम अगर जमींदाज न होते तो सितारे होते।

पलकों के सितारे भी उड़ा ले गई ‘अनवर’
वो दर्द की आँधी की सर-ए-शाम चली थी

एक सितारे सा टूटकर गिरूँगी कही
और उनकी हर मन्नत पूरी करके जाउंगी

“न लाऊँगा चाँद, न सितारे तुम्हारे वास्ते
बनाऊँगा जमीं को तेरे लायक तेरे वास्ते!!

Two line Sitare Shayari in Hindi

चाँद की चिट्ठी भूले से सितारे के पते पहुँची थी!!
खुशियाँ पल दो पल ही सही वहाँ ठहरी थी!!

कुछ सितारे तोड़ कर अपने आँचल से बाँध लिए
मुट्ठी भर रात चुराई है तुम्हारे लिए

सोच को अपनी ले जाओ तुम शिखर तक कि
उसके आगे सारे सितारे भी झुक जाएं

किस्मत हमारी है आसमान में चमकते सितारे जैसी
लोग अपनी तमन्ना के लिए तारे के टूटने का इंतज़ार करते हैं

आसमान के चाँद सितारे,आँचल में नही भर पाऊँगी
पर इतना वादा हैं प्रियतम,हर पल साथ निभाऊंगी

“सहमी हुई है रात, सितारे उदास हैं ,
जागा हुआ है चाँद सुबह की उमीद में

न जाने क्यूँ हमें इस दम तुम्हारी याद आती है!!
जब-जब आँखों में चमकते हैं सितारे शाम से पहले!!

किसी के इंतज़ार में, रातों को न बर्बाद करना,
टूटते हुए सितारे ने, बात ये हमको समझायी।

जिस में ना चमकते हों मोहब्बत के सितारे,
अगर वो शाम है तो मेरी शाम नहीं है!!

किसी के साथ जब बीते हुए लम्हों की याद आई
थकी आखों में अश्को के सितारे झिलमिलाते हैं

Sitare Shayari in Hindi

हसीन लगते हैं जाड़ों में सुबह के मंज़र!!
सितारे धूप पहनकर निकलने लगते हैं!!

Sitare Shayari in Hindiसुना है रात उसे चाँद तकता रहता है
सितारे बाम-ए-फ़लक से उतर के देखते हैं।।

सूरज, सितारे, चाँद मेरे साथ में रहें
जब तक तुम्हारे हाथ मेरे हाथ में रहें

उसके दामन में अगर शब हैं, सितारे भी तो हैं,
गर्दिशे-अफलाक* से मायूस होना छोड़ दे।

चाँद सितारे गोद में आकर बैठ गये सोचा ये था,
पहली बस से निकलेंगे -शकील जमाली!!

वहां तक ले गयी मुझे मेरी अना मोहसीन
जहाँ जाकर मुकद्दर के सितारे टूट जाते है

जान दे देंगें बस यही हमारे इख्तियार में है,
हम नहीं करते बात सितारे तोड़ लाने की!!

शाम आयी तेरी यादों के सितारे निकले!!
रंग ही ग़म के नहीं नक़्श भी प्यारे निकले!!

ऐ चाँद, दे इतनी रौशनी की कदम संभल जाए,
ऐ सितारे जगमगा तू इतना की सफ़र बहल जाए,

अंधेरो के राही हम लड़खड़ा जाते हैं अक्सर,
ज़र्रा-ज़र्रा चमके जमीन का ऐसे सब बदल जाए,

Two line Taare Shayari in Hindi

देख तू है हमसफ़र मेरी हर खामोश रातों का,
देना तब गवाही तू जब मेरा दम निकल जाए,

हिज्र की रातों में है उजाले की उम्मीद हमें,
रोशन हो दिल अपना, कुछ पल शमा जल जाए,

बदनसीबी की गिरफ्त में एक शमा नसीब की,
परवाने की क्या खता, फितरत है की जल जाए

आ तेरी उम्र मैं लिख दूँ चाँद सितारों से,
तेरा जन्म दिन मनाऊं मैं फूलों से और बहारों से!!
हर एक खूबसूरती दुनियां से मैं ले आऊं,
सजाऊं यह महफ़िल मैं हर हसीन नजारों से!!

रीती रिवाज़ के दल-दल में हम फना हो गए,
समाझ के बोझ तले हम तबाह हो गए!!
ए चाँद तू ही ख्याल रखना उसका,
बिन कहे ही वो हमसे जुदा हो गए!!

काश की तू चाँद और मैं सितारा होता,
आसमान में एक आशियाना हमारा होता,
लोग तुम्हें दूर से देखते,
नज़दीक से देखने का हक़ बस हमारा होता,

सितारा हूँ मगर यूं है, चमकना भूल बैठा हूँ,
में खुद अपने तारुफ़ का हवाला भूल बैठा हूँ,
जिससे मद-ए-नज़र रखकर चला था जानिब-ए-मंजिल,
सफ़र के दरमियां में वो सितारा भूल बैठा हूँ

Chand Sitare Shayari in Hindi

सूरज से कोई उसकी रौशनी मांगके देखे,
चाँद से कोई उसकी चांदनी मांगके देखे!!
और कब तक रहे हम यूहीं अकेले,
हमसे भी तो कोई मोहब्बत करके देखे!!

Sitare Shayari in Hindi

आज फिर चाँद इतना उदास है,
आज फिर तारे सोने लगे हैं,
आज फिर तेरी दी हुई तन्हाई है,
आज फिर हम रोने लगे हैं,

वो पूनम का चाँद, रात सुहानी,
वो रेत पे लिखना अपनी कहानी,
उसी अधूरी कहानी के सदके,
आज फिर ज़ख्म अपने पिरोने लगे हैं,

रात जा रही है चाँद ढल रहा है,
शबनम की बूंदों में ये दिल जल रहा है,
कहीं कम ना हो जाए ये दर्द सोचकर,
आज फिर अपने दिल को तड़पाने लगे हैं,

ग़म ना होता अगर तू किसी और का होता,
किसी और के आंचल में सुकून से सोता!!
सुन-ए-आसमान की गोद में सोने वाले,
आज फिर तारों में तुझे ढूंढने लगे हैं!!

ऐ चाँद आना ना कहीं उनके आगे,
तेरा हुस्न कुछ भी नहीं उनके आगे,

वो आँखों की मस्ती वो जुल्फों के बादल,
किसी को भी करदे वो एक पल में पागल,

वो मोहब्बत के फूलों का एक चमन है,
क्या तुझमें भी ऐसी अदा ऐसा फन है,

 Sitare Shayari in hindi

वो इशारों में बातों का समझाना उनका,
वो नज़रें मिलाकर के शरमाना उनका,

थोड़ी मासूमियत थोड़ा सा भोलापन है,
क्या तुझमें भी ऐसी अदा ऐसा फन है,

ना हाथों में कंगन ना कानों में बाली,
ना माथे पे बिंदिया ना होठों पे लाली,

बिन सजाए ही लगती वो कोई दुल्हन है,
क्या तुझमें भी ऐसी अदा ऐसा फन है!!

ये दिल प्यार के काबिल ना रहा,
कोई भी इज़हार के काबिल ना रहा!!
इस दिल में बस गई दोस्ती आपकी,
अब तो चाँद भी दीदार के काबिल ना रहा!!

महफिल ना होती, नज़ारे ना होते,
यूँ चाँद के पहलु में सितारे ना होते!!
हम इसलिए आपकी करते हैं परवाह,
क्योंकि दिल के करीब सारे नहीं होते!!

रात का आखरी पहर था, मुझसे चाँद ने कहा,
हमनशीन अलविदा मुझको नींद आ रही है!!

कल मिलेंगे इसी जगह, में सुनकर मुस्कुरा दिया,
उसको बतला दिया जाने वाले लौटते नहीं,

Hindi Shayari on Chand Taare

तुम नहीं आओगे मुझे है यकीन,
मेरी बात सुनके वो रुक गया,

Hindi Shayari on Chand Taare

और कहने लगा तुमसे वादा करूँ, फिर पूरा ना करूँ,
ऐसा मुमकिन नहीं, सुन ऐ हमनशीन, में चाँद हूँ इंसान नहीं,

इस प्यार का अंदाज़ कुछ ऐसा है,
क्या बतायें की यह अंदाज़ कैसा है!!
कौन कहता है कि तुम चाँद जैसे हो,
सच तो यह है कि चाँद तुम्हारे जैसा है!!

टूटे ख्वाबों की तस्वीर कब पूरी होती है,
चाँद तारों के बीच भी दूरी होती है!!
देना तो हमें खुदा सब कुछ चाहता है,
पर उसकी भी कुछ मजबूरी होती है!!

रात को जब चाँद सितारे चमकते हैं,
हम फिर तेरी याद में तड़पते हैं!!
आप तो चले गए जो छोड़कर हमको,
मगर हम तुमसे मिलने को तरसते हैं!!

जरूर पढ़िए:

 Sitare Shayari in hindi

देते हो क्यों ये दर्द बस हम ही को,
क्या समझोगे तुम इन आँखों की नमी को!!
यूँ तो होंगे लाखों दीवाने इस चाँद के,
चाँद क्या महसूस करेगा एक तारे की कमी को!!

अपनी हर साँस तुझे देना गवारा करलूं,
चाँद बन जाऊं मैं और तुम्हें सितारा करलूं!!
तुमने हर मोड़ पे थामा है मुझे गिरते हुए,
समंदर बन जाऊं और तुम्हें अपना किनारा करलूं!!

आँधियों में भी जैसे कुछ चिराग जला करते हैं,
उतनी ही हिम्मत-ए-हौसला हम भी रखा करते हैं!!
मंजिलें अभी और दूर हैं हमारी,
चाँद सितारे तो राहों में मिला करते हैं!!

कोई चाँद सितारा है,
कोई फूल से प्यारा है!!
कोई ख़ुशी का इशारा है,
कोई दिल का सहारा है!!
तुम्हें इतना बताना है,
वो नाम तुम्हारा है!!

संक्षेप में

उम्मीद करते हैं कि आपको आज की सितारें शायरी जरूर पसंद आई होगी और आप इन शायरी को कॉपी करके अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ शेयर जरूर करेंगे।

इन सितारें शायरी को व्हाट्सएप्प, फेसबुक, इंस्टाग्राम, टिकटोक, ट्विटर जैसे सोशल मीडिया पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करना न भूले धन्यवाद।

Leave a Comment